You are here
Home > GENERAL STUDIES NOTES > नकदी फसल या व्यापारिक फसल INDIAN GEOGRAPHY (CH – 46)

नकदी फसल या व्यापारिक फसल INDIAN GEOGRAPHY (CH – 46)

गन्ना

– गन्ना उष्णकटिबंधीय फसल है।

– गन्ना ग्रेमिनी कुल का फसल हैं।
– गन्ना एवं चीनी उत्पादन में ब्राजील के बाद भारत का दूसरा स्थान है जबकि विश्व में चीनी की खपत में भारत का दूसरा स्थान है।

– गन्ना भारत में सर्वाधिक सिंचित फसल है अर्थात गन्ना को सर्वाधिक सिंचाई की आवश्यकता पड़ती है।

– गन्ना का फसल 1 वर्ष में तैयार होता है।

 भारत में सर्वाधिक गन्ना और चीनी उत्पादक राज्य क्रमशः

1-  उत्तर प्रदेश – 45%
2- महाराष्ट्र
– लेकिन सर्वाधिक चीनी मिलें महाराष्ट्र में है।
– दक्षिण भारत की जलवायु अधिक होने के कारण यहां का गन्ना अपेक्षाकृत अधिक मोटा एवं अधिक रस वाला होता है परंतु अपेक्षाकृत कम मीठा होता है। ( उत्तर भारत के गन्ने से)
– गन्ने के रस में चीनी की मात्रा – 10 – 12%
– विश्व में सर्वाधिक गन्ना उत्पादकता अर्थात प्रति हेक्टेयर उत्पादन अमेरिका के हवाई द्वीप में होता है तथा दूसरा स्थान क्यूबा का है।
– उत्पादकता = प्रति हेक्टेयर उत्पादन
– भारतीय चीनी तकनीकी संस्थान – कानपुर
– भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान – लखनऊ
– न्यूनतम समर्थन मूल्य (msp)
– भारत सरकार विभिन्न खाद्यान्न फसलों के संदर्भ में न्यूनतम समर्थन मूल्य अर्थात MSP जारी करती है यह सरकार द्वारा किसानों को दी गई एक सुरक्षा है।
कृषि वर्ष 2017 – 18 में गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1625 ₹/क्विंटल था।
उचित और लाभकारी मूल्य
– गन्ने के संदर्भ में सरकार उचित और लाभकारी मूल्य जारी करती है।
– सरकार द्वारा गन्ने के संदर्भ में घोषित वह मूल्य जो चीनी मिलें द्वारा गन्ना किसानों को चुकाना अनिवार्य है।
– कृषि वर्ष 2017 – 18 में गन्ना का उचित और लाभकारी मूल्य ₹255 प्रति क्विंटल है।
– कपड़ा उद्योग के बाद चीनी उद्योग देश का दूसरा सबसे बड़ा कृषि आधारित उद्योग है।
– गन्ना और मक्का c4 पौधा है।
ऐसा पौधा जो प्रकाश संश्लेषण के दौरान आक्सैलो एसीटेट बनाता है।

रबड़-

रबड़ उष्णकटिबंधीय पौधा है।
– रबड़ का मूल निवास अमेजन नदी की घाटी है।
– रबड़ का सबसे बड़ा उत्पादक देश थाईलैंड है।
– विश्व में पारा किस्म का रबड़ सर्वोत्तम है।
– रबड़ वृक्ष (लेटेक्स) के पत्ते के दूध से बनाई जाती है।
– रबड़ उत्पादन की अनुकूल परिस्थितियां
1- उच्च तापमान और धूप
2- 200cm से अधिक वार्षिक वर्षा
3- लैटेराइट या लाल मृदा
– भारत में रबड़ उत्पादन के अनुकूल परिस्थितियां दक्षिण भारत के राज्यों में पाई जाती हैं।
– सर्वाधिक रबर उत्पादन केरला में
– विश्व में प्रति हेक्टेयर रबड़ का उत्पादन सर्वाधिक भारत में होता है लेकिन रबड़ के कुल उत्पादन में भारत का चौथा स्थान है।

कपास

– कपास मालवेसी कुल का पौधा है।
– विश्व में कपास की खेती के अंतर्गत सर्वाधिक क्षेत्र भारत में है लेकिन कपास उत्पादन में चीन के बाद भारत का दूसरा स्थान है।
– भारत में कपास की खेती काली मिट्टी (रेगुर मिट्टी लावा मिट्टी) के क्षेत्र के अंतर्गत की जाती है।
गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, पंजाब में
पंजाब काली मिट्टी का क्षेत्र नहीं है परंतु आधुनिकता के कारण।
– कपास उत्पादन में गुजरात प्रथम स्थान पर है। (34%)
– दूसरा राज्य महाराष्ट्र
– कपास के रेशे की लंबाई – 2.5 से 5 सेंटीमीटर
– सर्वोत्तम किस्म का कपास 5 सेंटीमीटर से भी अधिक लंबा हो सकता है। (USA में)
– कपड़ा उद्योग देश का सबसे बड़ा संगठित उद्योग है अर्थात यह उद्योग सर्वाधिक रोजगार प्रदान करता है।
Load 5,000 Or More Amazon Pay Balance Get 250rs Extra Cashback Instantly

Comments

comments

One thought on “नकदी फसल या व्यापारिक फसल INDIAN GEOGRAPHY (CH – 46)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top