You are here
Home > ABOUT US

नमस्कार दोस्तों ,

मेरा इस WEBSITE को बनाने का उद्देश्य  मुख्य रूप ऐसे ग्रामीण क्षेत्र के STUDENTS जो प्रतियोगी परीक्षा कि तैयारी कर रहे है, जिनके पास पर्याप्त साधन नहीं है,

जो बड़े शहरों में जाकर नहीं रह सकते, बड़े बड़े  COACHING CLASSES नही JOIN कर सकते है

उनके लिए हर एक सुविधा AVAILABLE कराना है जिसकी उन गरीब और छोटे शहरो के STUDENTS को NEED है जैसे STUDY MATERIAL, विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओ के SYLLABUS और TEST SERIES वगैरह उपलब्ध करना है |

WEBSITE पर अलग अलग SUBJECTS के NOTES तो उपलब्ध कराये ही जा रहे है  साथ -साथ  अलग-अलग SUBJECTS के TEST SERIES भी उपलब्ध कराए जा रहे है |
STUDY MATERIAL में विभिन्न SUBJECTS जैसे ECONOMICS,GEOGRAPHY, HISTORY, CURRENT AFFAIRS इत्यादि के NOTES AVAILABLE कराये जायेंगे |

GEOGRAPHY

GEOGRAPHY SUBJECTS के जो NOTES यहाँ पैर उपलब्ध कराये जायेंगे या जिस तरह से यह पढाया जायगा उसकी गुणवत्ता बाज़ार में बिकने वाली किताबो से कही बेहतर रहेगी |

आम तौर पर प्रतियोगी GEOGRAPHY में रटने पर ज्यादा बल देते है, लेकिन GEOGRAPHY एक बहुत ही वैज्ञानिक SUBJECT है और यह समझ आधारित विषय है |

अगर MAP के अध्ययन के माध्यम से GEOGRAPHY को एक बार समझ लिया जाय तो बहुत सारे ऐसे QUESTION भी हल हो जाते है जिन्हें हमने प्रत्यक्ष रूप से नहीं पढ़ा |

GEOGRAPHY एक बहुत ही INTERESTING SUBJECT है लेकिन आम तौर पर बाज़ार में बिकने वाली किताबो या अध्यापको द्वारा इसे जिस प्रकार से पढाया जाता है

वह बहुत ही BORING होता है क्योंकि उनके द्वारा GEOGRAPHY में FACTS पर विशेष बल दिया जाता है |
हमारी इस WEBSITE पर GEOGRAPHY को समझाने पर ज्यादा ध्यान दिया जायगा न कि FACTS को प्रस्तुत करने में |

GEOGRAPHY में चाहे भौतिक GEOGRAPHY हो या फिर आर्थिक GEOGRAPHY हो या फिर मानव

GEOGRAPHY हो इन सभी में प्रतियोगी STUDENTS कि समझ विकसित करने का प्रयास किया जायगार हमारा यह प्रयाश रहेगा कि वो एक बार GEOGRAPHY अच्छे से समझ ले तो उन्हें बार बार FACTS को दोहराने कि जरुरत ना पड़े |

ECONOMICS

ECONOMICS एक ऐसा SUBJECT है कि अधिकतर STUDENTS उसे समझ नहीं पते है बाज़ार में INDIAN ECONOMICS पर जो किताबे उपलब्ध है उनमे आकडे इस प्रकार से ठूस दिए जाते है कि संकल्पना और अवधारणा कही गायब से हो जाते है जिसके चलते किताब पढ़ने वाले प्रतियोगी अक्सर  ECONOMICS को लेकर शिकायत करते है

हम  ECONOMICS में अपनी BASIC समझ नहीं विकसित कर पा  रहे है इस WEBSITE का उद्देश्य रहेगा कि INDIAN ECONOMICS को इस तरह से पढाया जाय

ताकि ECONOMICS कि बेसिक समझ विकसित हो ECONOMICS केवल आंकड़ो तक ही सीमित ना रहे बल्कि उसकी एक व्यापक समझ विकसित कि जाय ताकि प्रतियोगी , परीक्षा में आने वाले प्रश्नों को बहुत ही आसानी से हल कर सके |

आंकड़े निश्चित रूप से ECONOMICS में बदलते रहते है प्रत्येक वर्ष लेकिन समझ एक बार विकसित हो गयी तो बदले हुए आंकड़ो के साथ समायोजित करने में बहुत ज्यादा मुश्किल नहीं आती है इसलिए ECONOMICS हमारा प्रमुख उद्देश्य रहेगा कि समझ आधारित अध्ययन कराया जाय |

HISTORY

 HISTORY एक बहुत ही भारी भरकम और व्यापक SUBJECT है आम तौर पर अभ्यर्थी इसे पढना नहीं चाहते है और वे  HISTORY के बारे में काफी असमंजस में रहते है

जैसे किस किताब से पढ़े किस अध्यापक से पढ़े वगैरह वगैरह | बाज़ार में भी कोई एसी किताब विशेष रूप से नहीं उपलब्ध है  जिसे STUDENTS INTREST लेकर पढ़ सके |

HISTORY में या तो बहुत जयादा पढाया जाता है बहुत ज्यादा लिखा होता है लेकिन  इस WEBSITE का प्रयाश रहेगा कि उन्ही तथ्यों को उकेरा जाय जो प्रतियोगी परीक्षा कि दृष्टी से महत्वपूर्ण है खासकर HISTORY कि समझ विकसित कि जायगी, तथ्यों पर तो बल रहेगा ही तथा उन्हें असमंजस  की स्थिति से  बाहर निकाला जायेगा

CURRENT AFFAIRS

CURRENT AFFAIRS में हर समय पिछले 6 महीनो का ही विशेष महत्व होता है अगर पिछले 6 महीने के CURRENT AFFAIRS को अच्छे से पढ़ लिया जय तो  सफलता निश्चित ही प्राप्त होगी क्योंकि किसी भी GENERAL STUDY के प्रश्न पत्र में CURRENT AFFAIRS से सबसे  ज्यादा प्रश्न पूछे जाते है आम तौर पर बाज़ार में मिलने वाली पत्रिकाओ में CURRENT AFFAIRS इतना ज्यादा लिखा होता है मुख्य विषय वस्तु कही गौण हो जाति है जबकि प्रतियोगी परीक्षाओ में बहुत ही सतही(HEADING) चीज़े पूछी जाती है अगर उन्हेंयां में रखकर पिछले 6 महीने का CURRENT AFFAIRS समाप्त करा दिया जाय तो निश्चित रूप से परीक्षा में भुत ही अच्छा प्रदर्शन किया जा सकता है और यही इस WEBSITE का प्रयाश रहेगा |

Top