You are here
Home > GENERAL STUDIES NOTES > INDIAN GEOGRAPHY NOTES > ऊर्जा : ENERGY RENEWABLE AND NON-RENEWABLE INDIAN GEOGRAPHY (CH-67)

ऊर्जा : ENERGY RENEWABLE AND NON-RENEWABLE INDIAN GEOGRAPHY (CH-67)

ऊर्जा (ENERGY) को कई आधारों पर बांटा गया है।

नवीकरणीय ऊर्जा, अनवीकरणीय ऊर्जा परंपरागत ऊर्जा, गैर परंपरागत ऊर्जा, प्रदूषणकारी ऊर्जा स्त्रोत, अप्रदूषणकारी ऊर्जा स्त्रोत

नवीकरणीय ऊर्जा (RENEWABLE ENERGY)

– जल विधुत, ऊर्जा, सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा, और ज्वारीय ऊर्जा, तरंग ऊर्जा
भूतापीय ऊर्जा – (पृथ्वी के अंदर चूना पत्थर एवं डोमोमाइट के कारण)
OTEC ऊर्जा – (समुद्र के साथ गर्म होने से प्राप्त ऊर्जा)
बायोमास ऊर्जा, बायोगैस ऊर्जा (गोबर से), बायोडीजल ऊर्जा (पेड़ के रस से)
अप्रदूषणकारी ऊर्जा स्त्रोत

 अनवीकरणीय ऊर्जा (NON-RENEWABLE ENERGY)

– कोयला, पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस, परमाणु ईंधन, (UR)
– खनिज ईंधन जैसे कोयला, पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस, तथा परमाणु खनिज आधारित ऊर्जा स्त्रोत अनवीकरणीय ऊर्जा के स्त्रोत हैं क्योंकि प्रकृति से इनका भंडार भविष्य में समाप्त हो जाएगा।
– कोयला, पेट्रोलियम तथा प्राकृतिक गैस जीवाश्म ईंधन है अर्थात यह जीवो के अवशेष से निर्मित हैं।
– कोयला – बड़े पेड़ वनस्पतियों का अवशेष
– पेट्रोलियम – समुद्री जीवों का अवशेष
प्रदूषणकारी ऊर्जा स्त्रोत

परंपरागत ऊर्जा

– कोयला, पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस, बड़ी जल विद्युत परियोजनाएं
( 25 mw से अधिक क्षमता वाली)

गैर परंपरागत ऊर्जा

– सभी नवीकरणीय ऊर्जा स्त्रोत
– परमाणु खनिज से प्राप्त ऊर्जा (Ur)
– लघु जल विद्युत परियोजनाएं
( 25 mw या उससे कम क्षमता वाली परीयोजनाएं)

Comments

comments

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top