You are here
Home > Posts tagged "online test series for gov jobs"

CURRENT AFFAIRS समसामयिकी (16th APRIL)

1.Govt. ties up with IIT-Delhi for safety switches on vehicles. Ministry of Electronics and IT with IIT-Delhi to aid safety of women. The first version by May,2018 for cars and Aug, 2018 for buses. The project is being funded by the Nirbhaya Fund, set-up in 2013. 2.Madhya Pradesh to hold meet on Gurukul System. 3-day

CURRENT AFFAIRS समसामयिकी (9th To 15th april)

9th April 1.Silent Valley Park, set to reopen in Kerala. 2.Atleast four Kingfisher species sighted in Krishna Wildlife Sanctuary, Andhra Pradesh. 3.Dadasaheb Excellence Award 2018: Anushka Dharma. The award is being given to Anushka by a Mumbai-based organisation called the Dadasaheb Phalke Foundation for achieving excellence as a movie producer. 4.Gobardhan Yojna Scheme to be launched at National

CURRENT AFFAIRS समसामयिकी ( 14 APRIL )

1.India-Zambia signed four agreements on: Double taxation avoidance, judicial cooperation, mutual visa waivers for officials and diplomats, and on the Entrepreneurship Development Institute that India will build in Zambia. 2.Chandra Shekhar Ghosh re-appointed Managing Director and CEO of Bandhan Bank. 3.Govt. to constitute a Task Force for fast tracking the roll out of

भारतीय जलवायु | भाग 2 (अध्याय -22 भारत का भूगोल )

पश्चिमी विक्षोभ – पश्चिमी विक्षोभ एक शीतोष्ण चक्रवात है जिसकी उत्पत्ति भारत के पश्चिम में यूरोप में भूमध्य सागर के ऊपर होता है तथा यह कैस्पियन सागर से भी होकर गुजरती है जिसके कारण इसमें पर्याप्त नमी आ जाती है। प० विक्षोभ मुख्य रूप से पश्चिमोत्तर भारत में वर्षा कराती है। पश्चिम

भारतीय जलवायु | भाग 1 (अध्याय -21 भारत का भूगोल )

जलवायु - मौसम वायुमंडल में दिन-प्रतिदिन होने वाला परिवर्तन है। तापमान, वर्षा, सूर्य का विकिरण - किसी स्थान पर अनेक वर्षों में मापी गई मौसम की औसत दशा को जलवायु कहते हैं। (लगभग 30 वर्ष) - भारत की स्थिति उष्णकटिबंध में होने के कारण अधिकतर वर्षा मानसूनी पवन से होती है। इसलिए भारत की

भारत की प्रमुख झीलें (अध्याय -20 भारत का भूगोल )

भारत की सबसे बड़ी झील चिल्का झील है| चिल्का एक लैगून झील है अर्थात खारे पानी की झील है लैगून झील के खारे पानी का संपर्क हमेशा समुद्रीय पानी से बना रहता है। कभी-कभी लैगून झील का सँकरा मुख समुद्रीय अवसाद से ढक जाता है तथा लैगून झील का मुख

यूरोप के मानचित्र को खंगाल डालिये (अध्याय-7 विश्व भूगोल )

यूरोप:- यूराल पर्वत का पश्चिम वाला भाग यूरोप कहलाता है तथा यूराल पर्वत का पूर्व वाला भाग साइबेरिया कहलाता है, जो एशिया के अंतर्गत आता है। रूस की राजधानी मास्को यूरोप में है। - यूरोप और एशिया एक ही भूखंड हैं। यूरोप पर्वत के समानांतर खिंची गयी काल्पनिक रेखा जो कैस्पियन

अपवाह प्रतिरूप (अध्याय -19 भारत का भूगोल )

अपवाह प्रतिरूप - नदियों के प्रवाह के स्वरूप को अपवाह प्रतिरूप कहते हैं। पूर्ववर्ती अपवाह प्रतिरूप - पूर्ववर्ती अपवाह प्रतिरूप केवल हिमालय क्षेत्र में पाया जाता है। Ex- सिंधु, सतलज, गंगा, ब्रम्हपुत्र Note- सिंधु सतलज एवं ब्रम्हपुत्र नदियां वृहद हिमालय लघु हिमालय तथा शिवालिक हिमालय को काट कर बहती हैं परंतु गंगा नदी वृहद हिमालय

अरब सागर में जल गिराने वाली की नदियां (अध्याय -18 भारत का भूगोल )

अरब सागर में जल गिराने वाली दक्षिण भारत की नदियों का क्रम उत्तर से दक्षिण की ओर इस प्रकार है- - लूनी - साबरमती - माही - नर्मदा - तापी - मांडवी - जुआरी - सारावती - गंगावैली - पेरियार - भरतपुरवा - प्रायद्वीपीय भारत की 4 नदियां साबरमती, माही, नर्मदा, तापी खंभात की खाड़ी में गिरती हैं। - प्रायद्वीपीय भारत की लूनी

दक्षिण भारत की नदियां (अध्याय -17 भारत का भूगोल )

प्रायद्वीपीय भारत की नदियां या दक्षिण भारत की नदियां प्रायद्वीपीय भारत की नदियां एवं हिमालय की नदियों में अंतर - प्रायद्वीपीय भारत की नदियां बहुत पुरानी है जबकि हिमालय की नदियां नयी है। हिमालय की नदियां अपनी युवावस्था में हैं अर्थात हिमालय की नदियां अभी भी अपने घाटी को लगातार गहरा कर

Top